31 January 2023

मन की बात

यह सर्वविदित है कि अतीत में भारत विश्व गुरु था। सिर्फ विश्व गुरु ही नहीं था बल्कि...
आज के भारत की भौगोलिक, राजनैतिक, नैतिक, धार्मिक, व्यापारिक, आर्थिक, शैक्षिक, भाषाई तथा सांस्कृतिक स्थिति इतनी अच्छी...
  आजकल के आम शहरी और सामाजिक जीवन में भागदौड़ भरी दिनचर्या ही एकमात्र जीने का तरीका...
  सृष्टि की उत्पत्ति के समय से ही प्रकृति सत्ता ने सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा के बीच...
भारत सहित पूरी दुनिया के वर्तमान हालातों का यदि मूल्यांकन एवं विश्लेषण किया जाये तो थोड़े-बहुत अंतर...
भारत सहित पूरे विश्व में व्यक्तिगत स्तर से लेकर वैश्विक स्तर तक तमाम तरह की समस्याएं देखने...
कालीचरण जी महाराज ने नाथूराम गोडसे को नमस्कार किया कि उन्होंने गांधी को मारा और देश को...
भारतीय समाज में एक बहुत ही पुरानी कहावत प्रचलित है कि यदि पड़ोस में आग लगी हो...